BREAKING NEWS

Wednesday, 31 July 2019

पिता मुलायम को बर्खास्त करने के लिए दलितों अल्पसंख्यकों ने सौंपा राष्ट्रीय अध्यक्ष पुत्र को पत्र

बलिया। गत 24 जुलाई को एनडीए द्वारा विधि विरुद्ध क्रियाकलाप निवारण संशोधन विधेयक  केंद्र सरकार द्वारा लाये गये कॉले विधेयक क् पक्ष में सपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं संरक्षक मुलायम सिंह यादव द्वारा समर्थन दिए जाने से सपा के अल्पसंख्यक दलित एवं पिछड़ा वर्ग मंच के कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालय पर जमकर नारेबाजी की, और मुलायम सिंह को बर्खास्त करें मुलायम सिंह मुर्दाबाद के नारे लगाए और मांग पत्र दिया। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को संबोधित पत्र में समाजवादी पार्टी  की नीतियों और दलित अल्पसंख्यक और पिछड़ा वर्ग के समाजवादी सोच के लोगों के विरुद्ध अपना अल्पसंख्यक दलित और पिछड़ा वर्ग विरोधी आचरण प्रमाणित किया है पार्टी के कानून के मुताबिक उन्हें तत्काल पार्टी से बाहर निकाला जाए। पिता के विरुद्ध राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को तत्काल कार्रवाई किए जाने की मांग की। सपा अल्पसंख्यक दलित एवं पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के नेताओवैस अख्तर हाशमी के नेतृत्व में सोपे गए पत्रक में मंच नेताजी के इस आचरण को धर्मनिरपेक्षता और लोकतंत्र में विश्वास रखने वाले लोगों के साथ धोखा करार दिया है। जिसके अमल से मुस्लिम और आदिवासी समाज के लोगों को बगैर सम्मन, वारंट के 1 महीने तक पुलिस किसी भी व्यक्ति को कस्टडी में रख सकेगी और शक के आधार पर उसकी संपत्ति सील किए जाने का प्रावधान इस विधेयक में बताया गया है फिर भी नेता जी ने इसका समर्थन किया है। जो समाजवादी पार्टियों और समाजवादी सोच से मैच नहीं खाती इसलिए एक पुत्र नहीं बल्कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष होने के नाते उन्हें तत्काल पार्टी से बर्खास्त किया जाए। 500 पी वालों ने बृजेश यादव बागी, राजन यादव, जीजी पीके राष्ट्रीय अध्यक्ष अरविंद गोंडवाना, मंजूर आलम, डॉक्टर कमाल अहमद, तेज नारायण,, राजन कुमार यादव बलवंत यादव, अमरेश मौर्य, आदि सैकड़ों सपा कार्यकर्ता गण मौजूद रहे।

Share this:

Post a Comment

 

Copyright © 2016, BKD TV
Concept By mithilesh2020 | Designed By OddThemes & Customised By News Portal Solution