BREAKING NEWS

Saturday, 9 February 2019

दहेज प्रथा समाप्त करने का रामबाण है सामूहिक विवाह ---जिलाधिकारी



— वैदिक मंत्रोच्चार के साथ 51 जोड़े हुए एक दूजे के
बलिया: सिकंदरपुर के गांधी इंटर कालेज में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनान्तर्गत शनिवार को 51 जोड़े एक दूजे के एक हुए। जिलाधिकारी भवानी सिंह खंगारौत की उपस्थिति में पं विनय  मिश्र व अजीत पाण्डेय ने सभी जोड़ो का वैदिक मंत्रोच्चार कर विवाह संपन्न कराया। जिलाधिकारी के साथ वहां मौजूद अति​थियों ने वर—वधुओं को आशीर्वाद दिया।
इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना उन गरीब परिवारों के लिए वरदान की तरह है, जो अपनी बेटियों के हाथ पीले करने में सक्षम नहीं है। कहा कि दहेज प्रथा जैसी कुरीतियों को समाप्त करने के लिए यह योजना रामबाण व क्रांतिकारी साबित हो रही है। कुछ लोग अपनी बेटी की शादी में उधार पैसे लेकर फिजूल खर्च कर पूरी जिंदगी कर्ज के बोझ तले दबे रहते हैं। ऐसे लोग भी योजना का लाभ लें तो बेहतर होगा। बताया कि इस योजना में पर्याप्त धनराशि है। उन्होंने ग्राम प्रधानों से अपील किया कि अपनी-अपनी ग्राम पंचायतों में ऐसे वर-वधु को चिन्हित कर इस योजना का लाभ दिलाएं।
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का दिलाया संकल्प
 कार्यक्रम में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देते हुए बेटी के महत्व को बताया। कहा कि  कभी भी बेटे और बेटी में फर्क नहीं समझना चाहिए। इस मौके पर कार्यक्रम संयोजक खंड विकास अधिकारी नवानगर उपेन्द्र पाठक, समाज कल्याण अधिकारी तिलकधारी, प्रोबेशन अधिकारी केके राय, ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि रामबचन यादव, प्रबन्धक अरविंद राय,   प्रधानाध्यापक उदय बहादुर सिंह, सिकंदरपुर चौकी प्रभारी सत्येंद्र कुमार राय, महिला सब इंस्पेक्टर नीलोफर बानो, एसआई लाल साहब गौतम ने भी नवदंपतियों को आशीर्वाद दिया। सामूहिक विवाह कार्यक्रम का संचालन प्रमोद गुप्ता ने किया।
—————

Share this:

Post a Comment

 

Copyright © 2016, BKD TV
Concept By mithilesh2020 | Designed By OddThemes & Customised By News Portal Solution