BREAKING NEWS

Monday, 18 February 2019

शहीद सेनानियों के ऋण से उऋण नहीं हो सकते हम-- विनोद शंकर दुबे

बाँसडीह,(बलिया)। स्वतंत्रता के असहयोग आंदोलन में बलिया के प्रथम शहीद पंडित रामदहीन ओझा की स्मृति दिवस पर विविध कार्यक्रमो का आयोजन किया गया। बाँसडीह डाकबंगला स्थित ओझा जी की प्रतिमा पर विभिन्न राजनीतिक सामाजिक सगठनों के पदाधिकारियों द्वारा माल्यापर्ण के बाद गरीब और असहाय महिलाओं द्वारा वस्त्र वितरित के साथ ही विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। आयोजित विचार गोष्ठी को सम्बोधित करते हुये भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद शंकर दूबे ने कहा कि सेनानियों के ऋण से यह देश कभी उऋण नही हो सकता आज उनके ही बदौलत हम खुली हवा में सांस ले रहे है वर्तमान युवा पीढ़ी को शहीद ओझा जी के आदर्शो से प्रेरणा लेनी चाहिये।बाँसडीह ब्लाक के पूर्व ब्लाक प्रमुख उमाशंकर पाठक और रेवती नगर पंचायत के चेयरमैन कनक पांडेय ने कहा कि शहीद ओझा जी ने अपनी लेखनी के माध्यम से अंग्रजो को लोहे के चने चबवा दिये और कभी अपने सिद्धांतों से समझौता नही किया। इस अवसर पर दो दर्जन गरीब और असहाय महिलाओं को वस्त्र वितरित किया गया। आयोजित कार्यक्रम में विद्याशंकर पांडेय, लक्ष्मण दूबे, रामजी सिंह, डाक्टर डी0के0 शुक्ला, राजकुमार गुप्ता,सजंय सिंह,राजेन्द्र सिंह,चन्द्रबली वर्मा विनय सिंह, मुनजी कुमार, अखिलेश गुप्ता, रामशीष वर्मा,मृदुल ओझा, लक्ष्मी तिवारी, हृदयानन्द सिंह, दिनेश तिवारी, अवधेश पांडेय सहित आदि लोग शामिल रहे।कार्यक्रम का संचालन   शहीद रामदहीन ओझा स्मारक समिति के संयोजक प्रतुल कुमार ओझा ने और आभार शहीद ओझा जी के पौत्र उपेंद्र कुमार ओझा ने व्यक्त किया। बांसडीह से सुनील कुमार वर्मा की रिपोर्ट

Share this:

Post a Comment

 

Copyright © 2016, BKD TV
Concept By mithilesh2020 | Designed By OddThemes & Customised By News Portal Solution