BREAKING NEWS

Monday, 21 January 2019

पुरानी पेंशन बहाली के लिए एकजुट होकर कर्मचारियों ने भरी हुंकार



बलिया। कर्मचारी-शिक्षक-अधिकारी पुरानी पेंशन बहाली मंच उप्र के तरफ से सोमवार को जिलाधिकारी कार्यालय के सामने कलक्ट्रेट परिसर में एकदिवसीय धरना-प्रदर्शन किया गया। इसमें कर्मचारियों ने नई अंशदायी पेंशन योजना के स्थान पर पुरानी पेंशन योजना को बहाल करने की मांग की। धरना सभा के उपरांत जिलाधिकारी के प्रतिनिधि सिटी मजिस्ट्रेट डॉ. विश्राम को मुख्यमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन सौंपा गया।
धरना सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने अपनी मांगों को लेकर हुंकार भरी। कहा कि राज्य के लगभग 20लाख कर्मचारी, शिक्षक व राज्य सेवा के सभी अधिकारी एक अप्रैल 2005 से लागू नई अंशदायी पेंशन योजना के स्थान पर देश भर के कर्मचारियों के साथ प्रदेश के कर्मचारियों-शिक्षकों तथा अधिकारियों की पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल किए के संबंध में अपना चरणबद्ध आंदोलन चला रहे हैं। जिसके क्रम में आज एकदिवसीय धरना आयोजित है।
कहा कि मुख्यमंत्री जी के द्वारा कर्मचारी-शिक्षक-अधिकारी बहाली मंच के पदाधिकारियों से वार्ता करके पुरानी पेंशन बहाली हेतु एक समिति गठित कर दो माह में संस्तुति देने की अवधि निर्धारित की गई। जिसके बाद 25, 26 व 27 अक्टूबर 2018 को प्रस्तावित हड़ताल को स्थगित किया गया। लेकिन समिति के द्वारा हमारी समस्या के निराकरण में कोई रुचि नहीं ली गई। जिसके फलस्वरूप एकदिवसीय धरना को विवश होना पड़ा।
वक्ताओं ने कहा कि केंद्र सरकार
यदि पुरानी पेंशन को बहाल नहीं कर सकती तो सत्ता छोड़ दे। नारा लगाया कि 'पुरानी दो नहीं गो'। केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि यह सरकार गूंगी और बाहरी हो गई है। हमारी पीड़ा को महसूस नहीं कर रही है। पुरानी पेंशन रूपी हमारी बुढ़ापे को लाठी को नहीं लौटाया तो हम सबक सिखाना भी जानते हैं। 2019 का सपना चकनाचूर भी हो सकता है। कहा कि प्रांतीय नेतृत्व के निर्देश पर यह लड़ाई तेज की जाएगी। चेतावनी दी कि यदि हमारी एकमात्र मांग पुरानी पेंशन के लिए सभी कर्मचारी, शिक्षक व अधिकारी आगामी 28 जनवरी 2019 को मशाल जुलूस निकालेंगे। इसके बाद भी मांग नहीं मानी गयी तो 6 फरवरी से 12 फरवरी 2019 तक हड़ताल करने को बाध्य होंगे। मंच ने ज्ञापन की एक प्रति प्रधानमंत्री जी व केंद्रीय वित्तमंत्री को भी प्रेषित किया।
इस मौके पर सत्या सिंह, सुशील कुमार पांडेय कान्ह जी, जितेंद्र सिंह, बृजेश सिंह, अनिल सिंह, राजेश पांडेय, सुशील त्रिपाठी, संत सिंह, सुनील सिंह, अजय सिंह, तुषारकान्त राय, राधेश्याम सिंह, रामप्रताप सिंह, अनूप सिंह, पंकज राय, सुधीर उपाध्याय, तेजप्रताप सिंह, राधेश्याम पांडेय, नारायण जी यादव, अजय सिंह, वीरेंद्र यादव, चंदन सिंह, विद्यासागर दूबे, गिरीश मिश्र, सुशील कुमार, निर्भय नारायण सिंह, शशिकांत ओझा व मंटू सिंह आदि थे।
अध्यक्षता प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अवधेश सिंह ने व संचालन राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के मंत्री वेदप्रकाश पांडेय ने किया।

 *जत्थों में पहुंचे शिक्षक-कर्मचारी*
पुरानी पेंशन बहाली के लिए आंदोलित कर्मचारी व शिक्षकों में अपनी मांग को लेकर खासा रोष दिखा। जिले के विभिन्न ब्लॉकों व कार्यालयों से कर्मचारी व शिक्षक नारेबाजी करते हुए धरना स्थल पर पहुंचे। कलक्ट्रेट परसिर में धरना स्थल पर हजारों कर्मचारी व शिक्षक मौजूद थे।

Share this:

Post a Comment

 

Copyright © 2016, BKD TV
Concept By mithilesh2020 | Designed By OddThemes & Customised By News Portal Solution